॥ अथ नवग्रह स्तोत्र ॥ (Navgrah Stotra)

Navgrah Strotra

संसार के सभी साधारण स्त्री-पुरुष और राजाओं के भी दु:स्वप्न दोषों का निदान हो जाता है । इसका पाठ करने वालों को अतुलनीय ऐश्वर्य के साथ-साथ आरोग्य प्राप्त होता है तथा पुष्टि की अभिवृद्धि होती है ।

Navgrah Strotra

किसी भी ग्रह,नक्षत्र ,चोर व अग्नि से उत्पन्न होने वाली पेड़ायें शांत हो जाते हैं । स्वयं व्यासजी इस प्रकार कहते हैं इसमें कोई संशय नहीएं करना चाहिये ।

॥ इति श्रीवेदव्यासविरचितम् आदित्यादीनवग्रह स्तोत्रं संपूर्णं ॥